15 August wishing Hindi Shayari 2018

15 August wishing Hindi Shayari 2018

15 August 2018 wishing shayri in hindi,
Independence day shayari in 2018,
Bharat independence day 2018 wish Shayri 2018,15 August Shayari,15 august shayari video,15august shayari in hindi font,15 august shayari hindi me,15 august shayari in urdu,15 august,shayari image,15 august shayari wallpaper,15 august shayari photo,15 august shayari in english,15 august shayari download,15 august anchoring shayari in hindi

हमारे पूरे पूरी हार्ट टचिंग शायरी टीम की ओर से आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाये

15 August Independence Day wishing Shayari 2018

Dil hamare ek hai ek hai hamari jaan,
Hindustan hamara hai hum hai iski shaan,
Jaan luta denge watan pe ho jayenge qurban
Isliye hum kehte hain mera Hindustan mahan.
Wish You Happy Independence Day

 

 

15 August wishing Hindi Shayari 2018

जाने कितने झूले थे फासी पर,

कितनो गोली खायी थी क्यु झुठ बोलते हो साहब,

कि चरखे से आजादी आयी थी

दे सलामी इस तिरंगे को जिस से तेरी शान हैं,

सर हमेशा ऊँचा रखना इसका..

जब तक दिल में जान हैं..!!

Jai Hindi, Jai Bharat

बेबी को बेस पसन्द हैं,

सलमान को केस पसन्द हैं,

मोदी को विदेश पसन्द हैं,

और मुझे मेरा देश पसंद हैं !!

HAPPY INDEPENDENCE DAY

गंगा यमुना यहाँ नर्मदा,

मंदिर मस्जिद के संग गिरजा,

शांति प्रेम की देता शिक्षा,

मेरा भारत सदा सर्वदा..!!

अब तक जिसका खून न खौला,

वो खून नहीं वो पानी है जो देश के काम ना आये,

वो बेकार जवानी है,

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस की बधाई

अब तक जिसका खून न खौला,

वो खून नहीं वो पानी है…

जो देश के काम ना आये,

वो बेकार जवानी है…

बोलो भारत माता की जय..

स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

दूध मांगोगे तो खीर देंगे…

कश्मीर मांगोगे तो चीर देंगे।

स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

15 August  4 line wishing Shayari 2018-15 August wishing Hindi Shayari 2018

न सर झुका है कभी.. और न झुकायेंगे कभी,

जो अपने दम पे जियें…सच में ज़िन्दगी है वही

. जिओ सच्चे भारतीय बन कर..

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस की बधाई..

हम तो किसी दूसरे की धरती पर नज़र भी नहीं डालते…

लेकिन इतने नालायक बच्चे भी नहीं की

कोई हमारी धरती माँ पर नज़र डाले

और हम चुप चाप देखते रहे। जय हिन्द

चड़ गये जो हंसकर सूली

खाई जिन्होने सीने पर गोली, हम उनको प्रणाम करते हैं,

जो मिट गये देश पर.

हम उनको सलाम करते हैं.

.स्वतंत्रता दिवस की बधाई

क्यों मरते हो यारो सनम के लिए…

ना देगी दुपट्टा कफ़न के लिए…

मारना है तो मरो “वतन” के लिए “तिरंगा”

तो मिले कफन के लिए…

स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

आओ देश का सम्मान करें,

शहीदों की शहादत को याद करें,

एक बार फिर से राष्ट्र की कमान, हम हिन्दुस्तानी

अपने हाथ धरे,

आओ स्वंतंत्र दिवस का सम्मान करें!

अगर 16 अगस्त को झंडे सम्हाल के रखने की औकात ना हो

तो 15 अगस्त को झंडे खरीद के अपनी मौसमी देशभक्ति का प्रदर्शन ना करें ।

शब्द कड़वे जरूर हैं पर नीयत साफ है,

भारत माता की जय

ना सरकार मेरी है ! ना रौब मेरा है !

ना बड़ा सा नाम मेरा है !

मुझे तो एक छोटी सी बात का गौरव है ,

मै “हिन्दुस्तान” का हूँ…. और “हिन्दुस्तान” मेरा है…

जय हिन्द

साले अपने खुद के देश में एक सुई नहीं बना सकते ….

और हमारा देश तोड़ने का सपना देखते हैं।

जिस देश में पैदा हुए हो तुम…

उस देश के अगर तुम भकत नहीं…

नहीं पिया दूध माँ का तुमने और बाप का तुम में रक्त नहीं…

वन्देमातरम !! स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

Kuchh nasha Tirange ki aaan ka hain,
Kuch nasha Matrbhumi ki shaan ka hai
Hum lahrayenge har jagah ye Tiranga
Nasha ye Hindustan ki shaan ka hain..!!

क्यों मरते हो यारो सनम के लिए…

ना देगी दुपट्टा कफ़न के लिए…

मारना है तो मरो “वतन” के लिए

“तिरंगा” तो मिले कफन के लिए…

स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

Aao desh ka samman karein..
Shahido ki shahadat yaad kare
Ek baar phir se rashtra ki kamaan,
Hum hindustani apne haath dhare,
Aao Swatantrata diwas ka maan kare
Swatantrata Diwas Ki Shubhkamnaye

संस्कार, संस्कृति और शान मिले…

ऐसे हिन्दू, मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले…

रहे हम सब ऐसे मिल-जुल कर…

मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में भगवान् मिले।

क्यों मरते हो यारो सनम के लिए…

ना देगी दुपट्टा कफ़न के लिए…

मारना है तो मरो “वतन” के लिए

“तिरंगा” तो मिले कफन के लिए…

स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

आओ झुक कर सलाम करे उनको…

जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है;

खुशनसीब होता है

वो खून जो देश के काम आता है!

स्वतंत्र दिवस की शुभकामनाएं!

15 August Desh Bakti Shayari 2018

Ye bat hawao ko bataye rakhna,
Roshni hogi chirago ko jalaye rakna,
Lahu dekr jiski hifazat hamne aise,
Tirange ko sada dil me basaye rakhna.

मुकम्मल है इबादत और मैं वतन ईमान रखता हूँ,

वतन के शान की खातिर हथेली पे जान रखता हूँ !!

क्यु पढ़ते हो मेरी आँखों में नक्शा पाकिस्तान का ,

मुस्लमान हूँ मैं सच्चा, दिल में हिंदुस्तान रखता हूँ !!

हिंदुस्तान ज़िंदाबाद, जय हिन्द, जय भारत

पंख फैलाये हुए मौर बहुत देखे है,

घन पे छाये घनघोर बहुत देखे है…

नाला कहता है समंदर से उमड़ना सीखो,

हमने बरसात के ये शौर बहुत देखे है…

भारत माता की जय

Nahi sirf jashn manana,
Nahi sirf jhande lehrana,
Yeh kaafi nahi hai watanparasti,
Yadon ko nahi bhulana,
Jo qurbaan hue,
Unke lafzon ko aage badhana,
Khuda ke liye nahi ..
Zindagi watan k liye nibhana..
Happy Independence Day

दे सलामी इस तिरंगे को

जिस से तेरी शान हैं,

सर हमेशा ऊँचा रखना इसका

जब तक दिल में जान हैं..!!

Jai Hindi, Jai Bharat

चड़ गये जो हंसकर सूली,

खाई जिन्होने सीने पर गोली,

हम उनको प्रणाम करते हैं,

जो मिट गये देश पर…

हम उनको सलाम करते हैं…स्वतंत्र दिवस मुबारक हो!

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,

मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,

नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,

मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता

लंदन देखा पेरिस देखा और देखा जापान ,

सरे जग में कहीं नहीं है दूसरा हिन्दुस्तान..

We all feel proud to be an Indian.

Wishing you all a very Happy Independence Day

15 August  poem kavita 2018-15 August wishing Hindi Shayari 2018

सरे जहाँ से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा ,,

हम बुलबुले हैं इसके ,

ये गुलिस्तान हमारा…

वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ

यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,

मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,

तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ।

संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे,

हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे

हम मिलजुल के रहे ऐसे की

मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे.

Happy Indian Independence Day

Na sar jhuka hai kabhi
Aur na jhukayenge Kabhi,
Jo apne dum pe jiye sach me zindagi h wahi
Live like a true INDIAN.
HAPPY INDEPENDENCE DAY.

Also Read

Top 10 Quotes Shayari Of APJ Abdul Kalam in Hindi with images

About the Author: Pramod Maurya

Hii I'm Pramod Maurya from fatehpur up..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *