सच्चा प्यार करने वालो लिए बेवफाई हिंदी शायरी- Bewafai hindi shayari

सच्चा प्यार करने वालो लिए बेवफाई हिंदी शायरी- Bewafai hindi shayari

 

कहाँ से लाऊ हुनर उसे मनाने का
कोई जवाब नही था उसके रूठ जाने का
मोहब्बत में सज़ा मुझे ही मिलती थी
क्युकी जुर्म मैंने किया था उससे दिल लगाने का


Bewafai hindi shayari

कभी करीब तो कभी जुदा है तूं
जाने किस किस से खफा है तू
मुझे तो तुझ पे खुद से ज्यादा यकीं था
पर जमाना सच ही कहता था की बेवफा है तू

 


Bewafai hindi shayari

क्यों जिंदगी इस तरह तुम दूर हो गए
क्या बात है जो इस तरह मगरूर हो गए।
हम तरसते रहे तुम्हारा प्यार पाने को
बेवफा बनकर तुम तो मशहूर हो गए।।


Bewafai hindi shayari

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,

कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,

बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,

आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी

 


Bewafai hindi shayari

प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना;

अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना;

वो चाहे लाख नफरते करें तुमसे;

पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम न करना।

You May Also Like

About the Author: Pramod Maurya

Hii I'm Pramod Maurya from fatehpur up..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *